Dillagi Shayari

Dillagi Shayari, दिल्लगी शायरी, Dillagi Shayari Photo, Dillagi Shayari image, Dillagi Shayari Hindi, Dillagi Shayari pic, Dillagi Shayari in hindi, New Dillagi Shayari, Dillagi Shayari Latest

Dillagi Shayari
Dillagi Shayari

kuch alag tha kahene ka andaaz unka
ke suna bhi kuch nahi kaha bhi kuch nahi
kuch is tarah bikhre us ke piyaar mein hum
ke toota bhi kuch nahi aur bacha bhi kuch nahi

कुछ अलग था कहेने का अंदाज़ उन्का
के सुना भी कुछ नहीं कहा भी कुछ नहीं
कुछ इस तरह बिखरे उनके प्यार में हम
के टूटा भी कुछ नहीं और बचा भी कुछ नहीं

Dillagi Shayari Photo
Dillagi Shayari Photo

tujh ko kasam sabaab ki in raboton ko dekh kar chal
laakhon padi hai khaak mein ujdi howi jawaniyan

तुझको को कसम सबाब की इन तरबोतों को देख कर चल
लाखों पड़ी है ख़ाक में उझडी हवी जवानियाँ

hathoon ke lakhiroon pe mat jaa ae galib
naseeb unkey bhi hotey hai jinkey haath nahi hote

Dillagi Shayari image

najdeekh se aane wali aawaazon mein sab se kareeb
tareen awaaz ki hoti hai
lekin buhot kam logo ko sonayi deti hai

नज्दीख से आने वाली आवाजों में सब से करीब तरीन आवाज़
ज़मीर की होती है लेकिन बहुत कम लोगो को सोनई देती है

Dillagi Shayari pic

har roz gir kar bhi mukammal khade hain
ae zindagi dekh mere honle tujhse bhi bade hain

हर रोज़ गिर कर भी मुकम्मल खड़े हैं
ए ज़िन्दगी देख मेरे होंसले तुझसे भी बड़े हैं

New Dillagi Shayari

ishq haara hai to dil thaam ke q baithe ho
tum to har baat pe kehte the koi baat nahi

 

इश्क हारा है तो दिल थाम के क्यू बैठे हो
तुम तो हर बात पे कहते थे कोई बात नहीं

Dillagi Shayari in hindi

सकून और इश्क दोनों एक साथ
रहने दो ग़ालिब कोई अक्ल की बात करो

teri mahefil se uthe the kisi ko khabar tak na thi
bus tera mod mod ke dekhna humein badnaam kar gaya

Dillagi Shayari hindi

Dillagi Shayari True

sakoon aur ishq dono ek saath
rehne do galib koi aqal ki baat karo

हातों के लाकिरू पे मत जा ऐ ग़ालिब
नसीब उनके भी होते है जिनके हाथ नहीं होते

 Top Dillagi Shayari

क़यामत का तो सोना था कोई किसी का ना होगा
मगर अब तो दुनिया में भी ये रिवाज़ आम हो गया है

Latest Dillagi Shayari

kahi tum bhi na ban jana majboon kisi kitaab ka
log bade shauk se padte hai kahaniyan bewafao ki

 Dillagi Shayari Tow line

कही तुम भी ना बन जाना मजबून किसी किताब का
लोग बड़े शौक से पड़ते है कहानियाँ बेवफाओ की

Related Post